जीडीए सचिव वृजेश कुमार से मिले पार्षद अभिनव जैन व उनके समर्थक

  • वार्ड के उद्यान के रखरखाव और सिविल रिपेयर के संदर्भ में ज्ञापन दिया, अपने वार्ड की समस्याओं से उन्हें अवगत कराया
  • जीडीए सचिव बृजेश कुमार ने अधीनस्थ अधिकारियों को पार्षद व उनके समर्थकों के समक्ष ही क्षेत्र की समस्याएं दूर करने के लिए दिए निर्देश

गाजियाबाद (हिन्द आत्मा डॉट कॉम)। सोमवार को वार्ड नम्बर 99 के निगम पार्षद अभिनव जैन, आम्रपाली रॉयल के प्रतिनिधि विकास भट्ट और एचआरसी हब के प्रतिनिधि चंद्रशेखर सिंह के साथ गाजियाबाद विकास प्राधिकरण के मुख्य ऑफिस में सचिव वृजेश कुमार को ज्ञापन देने के लिए पहुंचे। ततपश्चात उनको अपने वार्ड के उद्यान के रखरखाव और सिविल रिपेयर के संदर्भ में ज्ञापन दिया। इसी क्रम में संबंधित अधिकारियों से भी उन्होंने बातचीत की।

इस बारे में प्रेस को जानकारी देते हुए पार्षद श्री जैन ने बताया कि गाजियाबाद विकास प्राधिकरण के सचिव वृजेश कुमार ने उनके सभी काम को कराने का आश्वासन दिया और उनके सामने ही संबंधित अधिकारी को फोन पर काम शीघ्रता पूर्वक कराने के लिए निर्देश दिए। उन्होंने मीडिया को अपने आवेदन पत्र की फोटो कॉपी भी दी। उल्लेखनीय है कि निगम पार्षद श्री जैन ने जीडीए उपाध्यक्ष व सचिव को सम्बोधित अपने पत्र में सेंट्रल वर्ज एवं पार्क में पौधों के रखरखाव, जगह जगह पर हुई टूट-फूट की मरम्मत और व्याप्त गन्दगी की सफाई के मुद्दे को उठाया है।

पत्र में लिखा हुआ है कि गाजियाबाद विकास प्राधिकरण के प्रवर्तन जोन 6 अंतर्गत वार्ड नम्बर 99 वैभव खंड क्षेत्र में सेंट्रल वर्ज कई जगहों पर टूट चुके हैं। वहीं, कई जगहों पर सेंट्रल वर्ज में गंदगी व्याप्त है। पेड़ पौधे की ट्रिमिंग कहीं हुई है और कहीं नहीं, जिससे वार्ड की सुंदरता प्रभावित हो रही है। आलम यह है कि लोगों की अपेक्षा के अनुरूप कई बार मुझे अपनी जेब से ही सफाई करवानी पड़ रही है, क्योंकि गन्दगी से बीमारियों के फैलने का खतरा रहता है। प्रदूषण भी फैलता है।

वहीं, हमारे क्षेत्र में कई पार्क बदहाल हो चुके हैं। वैभव खण्ड में पार्क का वाकिंग एरिया क्षतिग्रस्त हो चुका है। अंदर की हेजेज टूट चुकी हैं। कैनोपियां गिरने वाली हैं, आरसीसी के सरिए निकल चुके हैं। इससे लोगों को चोटें भी लगती रहती हैं। वहीं कई पार्कों में अतिक्रमण देखा जा रहा है, जिससे वहां गन्दगी व्याप्त रहती है। इससे पेड़-पौधों की ट्रिमिंग भी बाधित होती है।

हैरत की बात है कि इनकी मरम्मत के लिए पूर्व में भी शिकायत की जा चुकी हैं, बड़े अधिकारी अधीनस्थ अधिकारियों को समुचित कार्रवाई के लिए बोल भी चुके हैं, लेकिन सारी बातें मौखिक होने से अपेक्षित परिणाम नहीं मिल रहा है। क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि होने के नाते लोग इस बारे में मुझे बताते हैं, जिससे मैं यह विषय आपके समक्ष उठा रहा हूँ और अविलम्ब समुचित कार्रवाई की अपेक्षा कर रहा हूँ।

लिहाजा, उम्मीद है कि आप इस विषय में समुचित कार्रवाई अतिशीघ्र सुनिश्चित करेंगे, ताकि हमारे वार्ड की सुंदरता और स्वच्छता बनी रहे।

Related Posts

Scroll to Top