कांग्रेस नेताओं और उनकी जनकल्याणकारी नीतियों पर मुहर है तेलंगाना विधानसभा चुनाव में मिली ‘स्पष्ट’ जीत : डॉली शर्मा

# हिमाचल प्रदेश और कर्नाटक के बाद तेलंगाना की स्पष्ट जीत से निकट भविष्य में हमारे जनाधार में और अप्रत्याशित बढ़ोतरी होगी और अगले साल 2024 में होने वाले लोकसभा चुनावों में हमलोग बीजेपी को कड़ी टक्कर देते हुए चुनावी मात भी देंगे।

नई दिल्ली/गाजियाबाद/हैदराबाद। कांग्रेस प्रवक्ता और तेलंगाना विधानसभा चुनाव की एआईसीसी मीडिया कोऑर्डिनेटर/सुपरवाइजर श्रीमती डॉली शर्मा ने तेलंगाना प्रदेश में कांग्रेस को मिली ऐतिहासिक जीत पर प्रसन्नता जताते हुए कहा कि यह हमारे नेताओं श्रीमती सोनिया गांधी, श्री राहुल गांधी, श्रीमती प्रियंका गांधी और पार्टी की जनकल्याणकारी नीतियों की जीत है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और तेलंगाना के प्रदेश अध्यक्ष रेवंत रेड्डी सहित तमाम नेताओं-कार्यकर्ताओं के अथक परिश्रम की जीत है।

पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों के बाद चार राज्यों के रविवार को आये चुनाव परिणामों के बाद तेलंगाना में पार्टी को मिले स्पष्ट बहुमत पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश और कर्नाटक विधानसभा चुनावों में मिली जीत के बाद अब तेलंगाना की स्पष्ट जीत से हमलोग उत्साहित हैं। भले ही छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान में हमारी उम्मीदें पूरी नहीं हुई हैं, लेकिन सभी राज्यों में हमें जो 40 प्रतिशत से अधिक मत मिले हैं, चारो राज्यों में हमारे 200 से ज्यादा विधायक जीते हैं, उससे कांग्रेस मुक्त भारत का सपना देखने वाले बीजेपी नेताओं को गहरी निराशा हुई होगी।

कांग्रेस प्रवक्ता श्रीमती शर्मा ने आगे कहा कि हमारी पार्टी ने एक बार फिर से यह साबित करके दिखा दिया है कि पूरे देश में भाजपा को हराने में केवल कांग्रेस पार्टी ही सक्षम है। इसलिए निकट भविष्य में हमारे जनाधार में और अप्रत्याशित बढ़ोतरी होगी और अगले साल 2024 में होने वाले लोकसभा चुनावों में हमलोग बीजेपी को कड़ी टक्कर देते हुए चुनावी मात भी देंगे। उन्होंने कहा कि तेलंगाना विधानसभा चुनावों में सफलता के लिए श्रीमती सोनिया गांधी, राहुल गांधी और श्रीमती प्रियंका गांधी के जितनी कड़ी मेहनत की, छोटे-बड़े पार्टी कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहित किया, उसके सार्थक परिणाम मिले हैं और हमारी पार्टी तेलंगाना के लोगों के सभी अरमानों को अवश्य पंख लगाएगी। वहीं, अन्य तीन राज्यों में भी हम सकारात्मक विपक्ष की भूमिका अपनाते हुए लोगों के कल्याण हेतु सरकार पर दबाव बनाने में कोई कोरकसर नहीं छोड़ेंगे।

Related Posts

Scroll to Top