समाज विकास क्रांति पार्टी के सांसद प्रत्याशी नमह होंगे प्रधानमंत्री प्रत्याशी

  • समाज विकास क्रांति पार्टी के गाजियाबाद लोकसभा प्रत्याशी और प्रधानमंत्री पद के दावेदार नमह ने कहा कि  इंडिया गठबंधन में प्रधानमंत्री के चेहरोे को लेकर आपसी सहमती ही नहीं है, लिहाजा चुनाव बाद गठबंधन में फूट पड़ना तय है।

गाजियाबाद। लोकसभा चुनाव देश के प्रधानमंत्री के लिए होता है। प्रधानमंत्री के चेहरे को देखकर ही मतदाता संबंधित पार्टी के सांसद प्रत्याशियों को वोट देकर जिताता है। देश के लोकसभा चुनाव में विभिन्न पार्टियां सरकार बनाने के लिए मतदाताओं के बीच हैं, लेकिन किसी ने भी प्रधानमंत्री के चेहरे की घोषणा नहीं की है। समाज विकास क्रांति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक सिंह ने सबसे पहले पार्टी की ओर से प्रधानमंत्री के चेहरे की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि गाजियाबाद लोकसभा सीट से पार्टी के प्रत्याशी नमह हैं और वह जीतकर संसद में पहुंचते हैं तो पार्टी की ओर से नमह ही प्रधानमंत्री का चेहरा होंगे। भाजपा और इंडिया गठबंधन के अलावा देश भर में केवल समाज विकास क्रांति पार्टी ही लोकसभा चुनाव लड़ रही है।

इंडिया गठबंधन मे शामिल कई पार्टियां भी केवल कुछ ही प्रदेशों में चुनाव लड़ रही हैं, जबकि समाज विकास क्रांति पार्टी 14 से ज्यादा प्रदेशों में 100 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ रही है। समाज विकास क्रांति पार्टी के गाजियाबाद लोकसभा प्रत्याशी और प्रधानमंत्री पद के दावेदार नमह ने कहा कि  इंडिया गठबंधन में प्रधानमंत्री के चेहरोे को लेकर आपसी सहमती ही नहीं है, लिहाजा चुनाव बाद गठबंधन में फूट पड़ना तय है। जबकि समाज विकास क्रांति पार्टी की ओर से उन्हें प्रधानमंत्री चेहरा घोषित कर दिया गया है और पार्टी केवल विचारों के आधार पर ही गठबंधन करेगी। पार्टी अपनी शर्तों पर गठबंधन में जाएगी और पार्टी का प्रधानमंत्री चेहरा ही प्रधानमंत्री बनेगा।

नमह ने सोमवार को विजयनगर, मिर्जापुर, पसौंडा और कैला भट्टा में तूफानी चुनावी जनसंपर्क किया। इस दौरान उन्होंने मुस्लिम समुदाय के लोगों से वोट मांगी और उनकी समस्याओं को जाना और समझा। उन्होंने लोगों को आश्वासन दिया कि मुस्लिम होने के नाम पर उनके साथ हो रहे अत्याचार को लेकर वह संसद में आवाज उठाएंगे। उनका प्रयास रहेगा कि सभी देशवासियों के साथ समानता का व्यवहार किया जाए, किसी के साथ भी धर्म या जाति के नाम पर भेदभाव न किया जाए। उन्होंने कहा कि यदि देश में समाज विकास क्रांति पार्टी की सरकार बनती है तो वह देश के संविधान में देश का नाम भारत करवाएंगे, जिससे देश को अंग्रेजों के दिए नाम इंडिया से मुक्ति मिल सके। अभी देश भर में सरकारी कागजों में देश का नाम अलग-अलग है। उन्होंने देश का नाम अंग्रेजी और हिन्दी में केवल भारत किए जाने की मुहिम चला ऱखी है। वह देश को भारत बनाना चाहते हैं और इसमें देश के 140 करोड़ निवासी उनके साथ हैं। नमह ने कहा कि देश के कई हिस्सों में धर्म और मजहब के आधार पर लोगों के साथ भेदभाव किया जाता है, जबकि सभी भारतवासी हैं और भारत में रहने वाले प्रत्येक नागरिक को समानता का अधिकार दिलवाना उनकी प्राथमिकता रहेगी। विशेष रूप से वह गाजियाबाद लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैं तो जीतने के बाद गाजियाबाद का विकास उनकी प्राथमिकता पर रहेगा। शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, भ्रष्टाचार और अपराधों पर नियंत्रण के साथ ही महंगाई को कम करना भी उनकी प्राथमिकताओं में शामिल है।

Related Posts

Scroll to Top